संक्षिप्त भारतीय इतिहास एवं महत्त्वपूर्ण तिथियाँ


संक्षिप्त भारतीय इतिहास

  • प्रागैतिहासिक काल
    • पुरा पाषण काल (अज्ञात काल से 8000 ई०पू० तक)
    • मध्य पाषण काल (8000 ई०पू० से 4000 ई०पू० तक)
    • नव पाषण काल (4000 ई०पू० से 2500 ई०पू० तक)
  • आद्य ऐतिहासिक काल (उत्तर पाषण काल)
    • सिन्धु घाटी सभ्यता (2500 ई०पू० से 1500 ई०पू० तक )
    • वैदिक सभ्यता (1500 ई०पू० से 600 ई०पू० तक )
      • ऋग्वैदिक काल (1500 ई०पू० से 1000 ई०पू० तक )
      • उत्तर वैदिक काल (1000 ई०पू० से 600 ई०पू० तक )
  • ऐतिहासिक काल
    • प्राचीन भारत का इतिहास (600 ई०पू० से 712 ई०)
      • महाजनपद काल (छठी शताब्दी ई०पू०)
      • मगध साम्राज्य (600 ई०पू० से 300 ई०पू०)
      • मौर्य साम्राज्य एवं संगम काल (चेर, पाण्ड्य, चोल) (323 ई०पू० से 184 ई०पू० तक )
      • मौर्योत्तर काल (184 ई०पू० से 319 ई०)
      • गुप्त साम्राज्य (319 ई० से 550 ई०)
      • हर्ष वर्धन काल (606 ई० से 647 ई० तक)
    • मध्य कालीन भारत का इतिहास (712 ई० से 1707 ई०)
      • पूर्व मध्यकालीन (8 वीं से 13 वीं शताब्दी )
        • उत्तर भारत
          • पाल वंश
          • सेन वंश
          • प्रतिहार वंश
          • राजपूत वंश
          • चौहान वंश
          • दिल्ली सल्तनत
        • दक्कन
          • चालुक्य वंश
          • राष्ट्रकूट वंश
        • दक्षिण भारत
          • चेर वंश
          • चोल वंश
          • पाण्ड्य वंश
          • पल्लव वंश
      • उत्तर मध्य कालीन (13 वीं से 18 वीं शताब्दी)
        • उत्तर भारत
          • राजपूत वंश
          • दिल्ली सल्तनत
          • मुग़ल
        • दक्कन
          • विजय नगर
          • बहमनी
          • मराठा
        • दक्षिण भारत
          • पाण्ड्य
          • होयसल
    • आधुनिक भारत का इतिहास (1707 ई० से वर्तमान काल तक)

ईसा पूर्व की महत्वपूर्ण तिथियाँ

  • 6000 ई०पू० – मेहरगढ़ और बुर्जहोम में भारत के प्राचीनतम कृषि एवं पशुपालन अवशेष |
  • 5000-4000 ई०पू० – बागोर तथा आदमगढ़ के निकट भेड़-बकरी पालन के प्रथम अवशेष |
  • 4000-3000 ई०पू० – कृषक एवं पशुपालन सभ्यताएँ |
  • 2350-1750 ई०पू० – रेडियो कार्बन तिथि निर्धारण के आधार पर हड़प्पा सभ्यता का विस्तार |
  • 1500 ई०पू० – ऋग्वैदिक काल, भारत में आर्यों का आगमन |
  • 1000 ई०पू० – उत्तर वैदिक काल, आर्यों का पूर्वी गंगा मैदान में विस्तार |
  • 950 ई०पू० – महाभारत युद्ध |
  • 850 ई०पू० – तेइसवें तीर्थंकर पार्श्वनाथ के जन्म का परम्परागत वर्ष |
  • 600-550 ई०पू० – सोलह महाजनपदों का उदय, उपनिषदों की रचना, आर्यों का दक्षिण विस्तार |
  • 540 ई०पू० – जैन धर्म के संस्थापक वर्द्धमान महावीर का जन्म |
  • 540-468 ई०पू० – जैन धर्म के वास्तविक संस्थापक वर्द्धमान महावीर का जीवन काल |
  • 563 ई०पू० – बौद्ध धर्म के संस्थापक महात्मा बुद्ध का जन्म |
  • 563-483 ई०पू० – बौद्ध धर्म के संस्थापक महात्मा बुद्ध का जीवन काल |
  • 516 ई०पू० – ईरान के शासक डेरियस प्रथम का भारत पर प्रथम विदेशी आक्रमण |
  • 544-412 ई०पू० – हर्यंक वंश बिम्बसार, अजातशत्रु, उदयिन |
  • 483 ई०पू० – प्रथम बौद्ध, संगीति, राजगृह में |
  • 412-344 ई०पू० – शिशुनाग वंश की स्थापना एवं विस्तार |
  • 383 ई०पू० –द्वितीय बौद्ध संगीति, वैशाली में |
  • 344 ई०पू० – मगध में नन्द वंश की स्थापना |
  • 326 ई०पू० – सिकंदर का भारत पर आक्रमण |
  • 323 ई०पू० – सिकंदर की बेबीलोन में मृत्यु |
  • 323 ई०पू० – चन्द्रगुप्त मौर्य द्वारा मौर्य वंश की स्थापना |
  • 305 ई०पू० – सेल्युकस का भारत पर आक्रमण |
  • 298 ई०पू० – बिंदुसार शासक बना |
  • 272-268 ई०पू० – अशोक तथा उसके भाइयों के बीच उत्तराधिकार युद्ध |
  • 269 ई०पू० – अशोक शासक बना |
  • 268-232 ई०पू० – अशोक का शासन काल |
  • 261 ई०पू० – कलिंग का युद्ध |
  • 257 ई०पू० – उपगुप्त द्वारा अशोक बौद्ध धर्म में दीक्षित |
  • 251 ई०पू० – तृतीय बौद्ध संगीति |
  • 232 ई०पू० – अशोक की मृत्यु, कुणाल शासक बना |
  • 200 ई०पू० – यूनानियों का भारत में आगमन |
  • 185 ई०पू० – अंतिम मौर्य शासक वृहद्रथ की हत्या, शुंग वंश की स्थापना |
  • 75 ई०पू० – कण्व वंश की स्थापना |
  • 30 ई०पू० – सिमुक द्वारा सातवाहन वंश की स्थापना |
  • 58 ई०पू० – विक्रम संवत् का प्रारंभ (उज्जैन के शासक विक्रमादित्य द्वारा) | शकों पर विजय के उपलक्ष्य में 58 ई०पू० से एक नया संवत् विक्रम संवत् के नाम से प्रारंभ हुआ |
  • 22 ई०पू० – चोल एवं पांड्यों का रोम से व्यापारिक सम्बन्ध |

ईसवी वर्ष की महत्वपूर्ण तिथियाँ –

  • 14-15 ई० – रोमन संत सेंट थाॅमस का भारत आगमन |
  • 20-46 ई० – गोंडोंफर्निश के समय में भारत में संत थाॅमस का आगमन |
  • 45 ई० – कुषाणों का भारत में प्रवेश |
  • 65 ई० – चीनी सम्राट का बौद्ध ग्रंथों के लिए भारत में प्रतिनिधि भेजना |
  • 77 ई० – प्लिनी की पुस्तक नेचुरल हिस्ट्री |
  • 78 ई० – कनिष्क द्वारा शक संवत् का प्रारंभ जिसे भारत सरकार द्वारा प्रयोग में लाया जाता है |
  • 78-100 ई० – कनिष्क का काल |
  • 86-128 ई० – गौतमीपुत्र शातकर्णी तथा वाशिष्ठीपुत्र पुलुमावी के अधीन सातवाहनों का पुनुरुत्थान |
  • 130-150 ई० – पश्चिम भारत का महान शक क्षत्रप रुद्रदामन |
  • 225 ई० – वाकाटक राजवंश की स्थापना |
  • 226 ई० – पर्शिया में सासानियन वंश की स्थापना |
  • 250 ई० – सातवाहन साम्राज्य का विघटन |
  • 240-280 ई० – गुप्त वंश की स्थापना (श्रीगुप्त शासक)
  • 280-319 ई० – घटोत्कच सिंहासनारूढ़ |
  • 319-320 ई० – चन्द्रगुप्त प्रथम द्वारा गुप्त वंश की स्थापना |
  • 335-375 ई० – समुद्रगुप्त का काल जिसे सैन्य विजयों के कारण उसे ‘भारत का नेपोलियन’ कहा जाता है |
  • 360 ई० – समुद्रगुप्त के दरबार में श्रीलंका का राजदूत |
  • 375 ई० – समुद्रगुप्त की मृत्यु , राम गुप्त शासक बना |
  • 380-415 ई० – चन्द्रगुप्त द्वितीय का शासन काल, गुप्त राज्य का पश्चिम में विस्तार तथा संस्कृत साहित्य का चरमोत्कर्ष |
  • 399-414 ई० – फाहियान भारत आया |
  • 455-467 ई० –स्कन्दगुप्त का काल, हूणों का प्रथम आक्रमण |
  • 467-540 ई० – गुप्त वंश का अवनति काल
  • 500-532 ई० – तोरमाण एवं मिहिरकुल के अधीन उत्तर भारत में हूणों का शासन |
  • 532 ई० – यशोवर्धन द्वारा मिहिरकुल की पराजय |
  • 606-647 ई० – हर्ष का शासन काल |
  • 609 ई० – पुलकेशिन-II शासक बना |
  • 629-645 ई० – ह्वेनसांग भारत में रहा |
  • 636 ई० –सिंध पर प्रथम अरब आक्रमण |
  • 712 ई० – मुहम्मद बिन कासिम का भारत पर प्रथम अरब आक्रमण, राजा दाहिर की पराजय |
  • 725 ई० – नागभट्ट द्वारा प्रतिहार राज्य की स्थापना |
  • 753-973 ई० – दक्कन के राष्ट्रकूट |
  • 760-1142 ई० – पूर्वी भारत के पाल |
  • 770-810 ई० – महान पाल शासक धर्मपाल का काल, विक्रमशिला विश्वविद्यालय की स्थापना |
  • 783-1036 ई० – राजस्थान के वत्सराज द्वारा उत्तर भारत में गुर्जर-प्रतिहार वंश की स्थापना तथा उनका शासनकाल |
  • 788-820 ई० – शंकराचार्य तथा उनका अद्वैतवादी दर्शन |
  • 835-885 ई० – गुर्जर-प्रतिहार वंश का काल, अरब के व्यापारी सुलेमान का उसके राज्य में आगमन |
  • 836 ई० – मिहिरभोज शासक बना |
  • 850 ई० – विजयालय द्वारा पांड्यों को पराजित कर तंजौर पर अधिकार |
  • 851 ई० – अरब-यात्री सुलेमान ने भारत वृत्तान्त लिखा |
  • 860 ई० – सुमात्रा (इंडोनेशिया) के राजा बलपुत्र द्वारा नालंदा में एक बौद्ध विहार की स्थापना |
  • 871-1173 ई० – तंजौर के शाही चोल |
  • 883-1026 ई० – पंजाब और काबुल के हिन्दूशाही |
  • 907 ई० – चोल शासक परांतक प्रथम का राज्याभिषेक |
  • 915-925 ई० – महान राष्ट्रकूट इंद्र तृतीय के दरबार में अरब यात्री अल मसूदी का आगमन |
  • 916-1205 ई० – जेजाकभुक्ति के चंदेल, चंदेलों के द्वारा खुजराहों में मंदिरों का निर्माण |
  • 950-1195 ई० – मध्य भारत में त्रिपुरी के कलचुरि |
  • 973-1238 ई० – अन्हील्वाड़ा (काठियावाड़) के सोलंकी (गुजराती चालुक्य) |
  • 977 ई० – सुबुक्तगीन का भारत पर आक्रमण |
  • 985-1014 ई० – राजराज चोल का शासनकाल, तंजौर के प्रसिद्ध शिव अथवा वृहदेश्वर मंदिर का निर्माण |
  • 999 ई० – बगदाद के खलीफा द्वारा महमूद गजनवी को स्वतंत्र शासक के रूप में मान्यता |
  • 1000 ई० – महमूद गजनवी का भारत में काबुल पर प्रथम आक्रमण |
  • 1000-1323 ई० – वारंगल के काकतीय, बेतराज-प्रथम (संस्थापक), प्रतापरुद्रदेव (अंतिम शासक) |
  • 1001 ई० – वैहिन्द की लड़ाई तथा जयपाल (हिन्दूशाही शासक) की महमूद गजनवी से पराजय |
  • 1025-1026 ई० – महमूद गजनवी द्वारा सोमनाथ मंदिर की लूट |
  • 1027 ई० – महमूद गजनवी का अंतिम आक्रमण |
  • 1030 ई० – महमूद गजनवी की मृत्यु, अलबरूनी का भारत आगमन |
  • 1191 ई० – तराइन का प्रथम युद्ध, पृथ्वीराज द्वारा मुहम्मद गोरी पराजित हुआ |
  • 1192 ई० – तराइन का द्वितीय युद्ध, मुहम्मद गोरी द्वारा पृथ्वीराज की हार, कुतुबुद्दीन ऐबक भारत का सूबेदार नियुक्त |
  • 1194 ई० –चन्दावर का युद्ध, जयचन्द पराजित |
  • 1206 ई० – मुहम्मद गोरी की मृत्यु |
  • 1206 ई० – कुतुबुद्दीन ऐबक द्वारा दिल्ली सल्तनत की स्थापना, कुतुबमीनार का निर्माण आरम्भ |
  • 1210 ई० – कुतुबुद्दीन ऐबक की मृत्यु, आरामशाह को परास्त कर इल्तुतमिश शासक बना |
  • 1221 ई० – चंगेज खां का भारत पर आक्रमण |
  • 1236 ई० – रजिया सुलतान गद्दी पर बैठीं |
  • 1240 ई० – रजिया सुलतान की हत्या |
  • 1265 ई० – गयासुद्दीन बलबन गद्दी पर बैठा |
  • 1279 ई० – बंगाल में तुगरिल खां का विद्रोह |
  • 1286 ई० – गयासुद्दीन बलबन की मृत्यु |
  • 1290 ई० – खिलजी वंश की स्थापना जलालुद्दीन खिलजी (संस्थापक) |
  • 1296-1316 ई० – अलाउद्दीन खिलजी शासक बना |
  • 1309-1313 ई० – मालिक काफूर का दक्कन अभियान |
  • 1315 ई० – मालिक काफूर दक्कन से वापसी |
  • 1320 ई० – तुगलक वंश की स्थापना |
  • 1325 ई० – मुहम्मद बिन तुगलक शासक बना |
  • 1333-1342 ई० – इब्नबतूता की भारत यात्रा
  • 1336 ई० – हरिहर एवं बुक्का द्वारा विजयनगर साम्राज्य की स्थापना |
  • 1347 ई० – बहमनशाह द्वारा बहमनी राज्य की स्थापना |
  • 1393 ई० – जौनपुर राज्य की स्थापना |
  • 1398 ई० – तैमूरलंग का भारत पर आक्रमण, दिल्ली पर अधिकार |
  • 1414 ई० – दिल्ली में सैय्यद वंश की स्थापना |
  • 1414-1451 ई० –दिल्ली में सैय्यद वंश का शासन |
  • 1451 ई० – बहलोल लोदी द्वारा लोदी वंश की स्थापना |
  • 1455 ई० – संतकबीर का जन्म |
  • 1469 ई० –सिख धर्म के संस्थापक गुरु नानकदेव का पंजाब के तलवंडी में जन्म |
  • 1472 ई० – शेरशाह सूरी का जन्म |
  • 1483 ई० – जहीरुद्दीन बाबर का फरगान में जन्म |
  • 1509 ई० – कृष्णदेव राय शासक बने |
  • 1510 ई० – गोवा पर पुर्तगालियों का कब्ज़ा |
  • 1517 ई० – इब्राहीम लोदी का राज्याभिषेक |
  • 1519 ई० – भारत में बाबर का प्रवेश |
  • 1520 ई० – बाबर का भीटा एवं स्यालकोट पर आक्रमण |
  • 1526 ई० – पानीपत का प्रथम युद्ध (बाबर व इब्राहीम लोदी के मध्य), इब्राहीम लोदी की पराजय, मुग़ल साम्राज्य की स्थापना |
  • 1527 ई० – खानवा की लड़ाई, बाबर द्वारा राणा सांगा की हार |
  • 1529 ई० – घाघरा के युद्ध में बाबर द्वारा अफगानों की पराजय |
  • 1530 ई० – बाबर की मृत्यु, हुमायूँ का सिन्हासनारोहण |
  • 1532 ई० – गोस्वामी तुलसी दास का जन्म |
  • 1539 ई० – चौसा के युद्ध में शेरशाह द्वारा हुमायूँ की पराजय |
  • 1540 ई० – शेरशाह का दिल्ली पर अधिकार।
  • 1542 ई० – हुमायूँ के पुत्र अकबर का जन्म।
  • 1555 ई० – हुमायूँ का भारत पर पुनः अधिकार ।
  • 1556 ई० – पानीपत के द्वितीय युद्ध में अकबर द्वारा हेमू की पराजय, बैरम खाँ के संरक्षण में अकबर बादशाह बना। पुर्तगालियों द्वारा पहला प्रिंटिंग प्रेस भारत पहुँचा।
  • 1562 ई० – अकबर द्वारा दास प्रथा की समाप्ति।
  • 1563 ई० – तीर्थ यात्रा कर की समाप्ति।
  • 1564 ई० – अकबर द्वारा जजिया कर की समाप्ति।
  • 1565 ई० – तालीकोटा या राक्षसी तंगड़ी का युद्ध, विजयनगर साम्राज्य का अंत।
  • 1568 ई० – अकबर की चित्तौड़ विजय |
  • 1569 ई० – जहाँगीर का जन्म।
  • 1571 ई० –अकबर द्वारा फतेहपुर सीकरी का निर्माण।
  • 1572-1573 ई० –गुजरात विजय |
  • 1574-1576 ई० –अकबर द्वारा बिहार-बंगाल की विजय।
  • 1576 ई० –हल्दीघाटी का युद्ध, अकबर द्वारा महाराणा प्रताप पराजित।
  • 1579 ई० – अकबर ने महजरनामा जारी किया।
  • 1582 ई० – अकबर द्वारा दीन-ए-इलाही की घोषणा।
  • 1600 ई० – ईस्ट इंडिया कम्पनी की स्थापना।
  • 1602 ई० – डच व्यापारिक कम्पनी की स्थापना।
  • 1605 ई० – अकबर की मृत्यु, जहाँगीर का राज्यारोहण ।
  • 1606 ई० – जहाँगीर द्वारा गुरु अर्जुन देव को फाँसी।
  • 1610 ई० – पुलीकट में डच फैक्टरी स्थापित।
  • 1611 ई० – मूसलीपत्तनम में प्रथम अंग्रेज फैक्टरी स्थापित।
  • 1611 ई० – नूरजहाँ एवं जहाँगीर का विवाह ।
  • 1615 ई० –टामस रो भारत आया।
  • 1622 ई० – शाहजहाँ का विद्रोह ।
  • 1627 ई० – जहाँगीर की मृत्यु ।
  • 1628 ई० – शाहजहाँ मुगल सम्राट बना।
  • 1631-1653 ई०- शाहजहाँ द्वारा ताजमहल का निर्माण।
  • 1636 ई० – औरंगजेब को दक्कन का सूबेदार बनाया गया।
  • 1639 ई० – अंग्रेजों ने मद्रास में सेंट जॉर्ज किले की नींव रखी।
  • 1646 ई० – शिवाजी का तोरण पर अधिकार।
  • 1648 ई० – शाहजहाँ द्वारा शाहजहांनाबाद का निर्माण शुरू।
  • 1656 ई० – शिवाजी का जावली पर अधिकार।
  • 1659 ई० – शिवाजी द्वारा अफजल खाँ की हत्या, दारा शिकोह को मृत्युदण्ड ।
  • 1658 ई० –औरंगजेब सिंहासनारूढ़ ।
  • 1664 ई० – शिवाजी द्वारा सूरत की लूट | फ्रांसीसी ईस्ट इण्डिया कम्पनी की स्थापना ।
  • 1665 ई० – शिवाजी और मुगलों के बीच पुरन्दर की सन्धि |
  • 1666 ई० – शाहजहाँ की मृत्यु।
  • 1670 ई० – शिवाजी का सूरत पर दूसरा आक्रमण।
  • 1674 ई० – शिवाजी का रायगढ़ में राज्याभिषेक, फ्रांसीसियों द्वारा पाण्डिचेरी की स्थापना ।
  • 1675 ई० –औरंगजेब द्वारा गुरु तेगबहादुर को मृत्युदण्ड ।
  • 1679 ई० – औरंगजेब ने पुनः जजिया कर लगाया।
  • 1680 ई० – शिवाजी की मृत्यु ।
  • 1685 ई० – अंग्रेज कम्पनी का मुख्यालय सूरत से हटाकर बम्बई स्थानान्तरित ।
  • 1689 ई० – औरंगजेब द्वारा शंभाजी को मृत्युदण्ड, शाहू बन्दी बनाया गया।
  • 1698 ई० –सूतानाटी, कलिकता तथा गोविन्दपुरी की जमींदारी ईस्ट इंडिया कम्पनी को मिली।
  • 1707 ई० – औरंगजेब की मृत्यु, शाहू की मुक्ति, बहादुरशाह प्रथम सम्राट बना।
  • 1708 ई० – गुरुगोविन्द सिंह का नांदेड़ में निधन।
  • 1712 ई० – बहादुरशाह प्रथम की मृत्यु, जहाँदारशाह शासक बना।
  • 1713 ई० – बालाजी विश्वनाथ पेशवा बने।
  • 1715 ई० – सिख नेता बन्दाबहादुर को मृत्युदण्ड ।
  • 1717 ई० – फर्रुखसियर द्वारा ईस्ट इण्डिया कम्पनी को स्वतन्त्र व्यापार का फरमान ।
  • 1720 ई० – बाजीराव प्रथम पेशवा बने, सैय्यद बन्धुओं का अन्त।
  • 1739 ई० – नादिरशाह द्वारा दिल्ली पर आक्रमण, कोहिनूर हीरा एवं मयूर सिंहासन उसके कब्जे में।
  • 1740 ई० – अलीवर्दी खां बंगाल का नवाब बना।
  • 1744-1748 ई० – प्रथम आंग्ल-फ्रांसीसी कर्नाटक युद्ध।
  • 1742 ई० – बंगाल पर मराठों का अभियान, डूप्ले फ्रांसीसी बस्ती पाण्डिचेरी का गवर्नर नियुक्त।
  • 1747 ई० – अहमदशाह अब्दाली का भारत पर आक्रमण।
  • 1750-1754 ई० – दूसरा आंग्ल-फ्रांसीसी कर्नाटक युद्धा |
  • 1751 ई० –अर्काट पर अंग्रेजों का अधिकार (क्लाइव द्वारा) ।
  • 1756 ई० – अलीवर्दी खां की मृत्यु, सिराजुद्दौला बंगाल: की गद्दी पर बैठा, ब्लैक होल की घटना।
  • 1757-1763 ई० – तीसरा आंग्ल-फ्रांसीसी कर्नाटक युद्ध।
  • 1757 ई० – प्लासी की लड़ाई में सिराजुद्दौला अंग्रेजों द्वारा पराजित तथा मीर जाफर बंगाल का नवाब बना |
  • 1758 ई० –फ्रांसीसियों का फोर्ट सेंट डेविड पर कब्जा।
  • 1760 ई० – मीर कासिम बंगाल का नवाब बना, वाडीवास के युद्ध में अंग्रेजों द्वारा फ्रांसीसियों की पराजय ।
  • 1761 ई०- पानीपत का तीसरा युद्ध, अहमदशाह अब्दाली द्वारा मराठों की पराजय।
  • 1763 ई० – मीर जाफर पुनः बंगाल का नवाब बना |
  • 1764 ई० – बक्सर का युद्ध |
  • 1765 ई० –बंगाल में अंग्रेजों द्वारा द्वैध शासन की शुरुआत।
  • 1765 ई० – क्लाइव की दूसरी गवर्नरी (1765-67 ई०), बंगाल, बिहार और उड़ीसा की दीवानी कम्पनी को मिली।
  • 1767-1769 ई० – प्रथम आंग्ल-मैसूर युद्ध ।
  • 1772 ई० –वारेन हेस्टिंग्स बंगाल का गवर्नर जनरल बना, कम्पनी द्वारा द्वैध शासन की समाप्ति ।
  • 1773 ई० – ब्रिटिश संसद द्वारा रेग्यूलेटिंग एक्ट पारित, कम्पनी पर ब्रिटिश संसद का आशिक नियंत्रण।
  • 1774 ई० – रूहेला युद्ध, वारेन हेस्टिंग प्रथम गवर्नर जनरल (1774-85 ई०), कलकत्ता में उच्चतम न्यायालय की स्थापना ।
  • 1775-1782 ई० – प्रथम आंग्ल-मराठा युद्ध ।
  • 1777 ई० – वीर कुँवर सिंह का जन्म।
  • 1776 ई० – पुरन्दर की सन्धि अंग्रेजों एवं मराठा के बीच।
  • 1780-1784 ई० –द्वितीय आंग्ल-मैसूर युद्ध ।
  • 1784 ई० – पिट्स का इण्डिया एक्ट पारित, एशियाटिक सोसायटी ऑफ बंगाल की स्थापना ।
  • 1786 ई० – लॉर्ड कार्नवालिस गवर्नर जनरल बना।
  • 1790-1792 ई० –तीसरा आंग्ल-मैसूर युद्ध ।
  • 1792 ई० – रणजीत सिंह गद्दी पर बैठे।
  • 1793 ई० – बंगाल में स्थाई बन्दोबस्त लागू।
  • 1797 ई० – श्रीरंगपट्टनम में फ्रांसीसियों द्वारा जैकोबिन क्लब की स्थापना।
  • 1798 ई० – लॉर्ड वेलेजली बंगाल का गवर्नर जनरल बना।
  • 1799 ई० – चौथा आंग्ल-मैसूर युद्ध, टीपू सुल्तान, की मृत्यु |
  • 1801 ई० – फोर्ट विलियम कॉलेज की स्थापना।
  • 1802 ई० – पेशवा के साथ बेसीन की संधि |
  • 1803-1806 ई० – द्वितीय आंग्ल-मराठा युद्ध ।
  • 1803 ई० – सुर्जी अर्जुनगाँव की सन्धि ।
  • 1806 ई० – वेल्लोर का सैनिक विद्रोह ।
  • 1809 ई० कम्पनी और रणजीतसिंह के बीच अमृतसर की सन्धि |
  • 1813 ई० – चार्टर अधिनियम ।
  • 1814-1816 ई०नेपाल के साथ युद्ध तथा सुगौली की सन्धि
  • 1817-1818 ई० तृतीय आंग्ल-मराठा युद्ध ।
  • 1818 ई० भारतीय भाषा (बांग्ला) में प्रथम समाचार पत्र ‘समाचार दर्पण” साप्ताहिक प्रकाशित, ” अष्टी की लड़ाई, कोरेगांव की सुरक्षा, पेशवा बाजीराव द्वारा आत्मसमर्पण।
  • 1818 ई० – पेशवा पद की समाप्ति, बाजीराव द्वितीय को अंग्रेजों के पेंशनर के रूप में बिठूर में भेज दिया गया।
  • 1820-1822 ई०सर थॉमस मुनरो मद्रास के गवर्नर ।
  • 1821 ई० – पूना में संस्कृत कॉलेज की स्थापना।
  • 1823 ई० – मिस्टर एडम्स की कार्यवाहक गवर्नर जनरल के रूप में नियुक्ति, लॉर्ड एमहर्स्ट गवर्नर जनरल |
  • 1824 ई० बैरकपुर में सैनिक विद्रोह ।
  • 1824- 1826 ई० – प्रथम आंग्ल-बर्मा युद्ध ।
  • 1826 ई० – यान्डूब की सन्धि ।
  • 1828 ई० – विलियम बेंटिक बंगाल के गवर्नर जनरल बने |
  • 1828 ई० – राजा राममोहन राय द्वारा ब्रह्म समाज की स्थापना।
  • 1829 ई० – विलियम बेंटिक द्वारा सती प्रथा को गैरकानूनी घोषित किया गया।
  • 1830 ई० – ठगी प्रथा को समाप्त कर दिया गया।
  • 1831 ई० – राजा राममोहन राय इंगलैण्ड गये।
  • 1833 ई० – भारतीय विधि आयोग गठित, बंगाल का गवर्नर जनरल भारत का गवर्नर जनरल कहलाने लगा, कम्पनी का व्यापारिक अधिकार समाप्त, राजा राममोहन राय की ब्रिस्टल में मृत्यु।
  • 1835 ई० – चार्ल्स मेटकॉफ द्वारा समाचार पत्रों पर से प्रतिबन्ध की समाप्ति, अंग्रेजी सरकारी भाषा बनी, कलकत्ता मेडिकल कॉलेज की स्थापना हुई।
  • 1838 ई० – कम्पनी, रणजीतसिंह तथा शाहशुजा के बीच त्रिदलीय सन्धिा
  • 1839 ई० – रणजीतसिंह की मृत्यु।
  • 1839-1842 ई० – प्रथम अफगान युद्ध।
  • 1841 ई० – कलकत्ता में “देश हितैषिणी सभा” की स्थापना।
  • 1843 ई० – सिंध पर अंग्रेजों का अधिकार, दास प्रथा पर प्रतिबन्ध।
  • 1845-1846 ई० – प्रथम आंग्ल (Anglo ) सिख युद्ध (अंग्रेजी कंपनी तथा सिख राजा के बीच)
  • 1847 ई० – रुड़की में प्रथम इंजीनियरिंग कॉलेज स्थापित ।
  • 1848 ई० – लॉर्ड डलहौजी गवर्नर जनरल बना, गोद लेने की प्रथा पर प्रतिबन्ध।
  • 1848-1849 ई० – द्वितीय आंग्ल-सिख युद्ध।
  • 1851 ई० – कलकत्ता में “ब्रिटिश इण्डियन एसोसिएशन” की स्थापना ।
  • 1852 ई० – द्वितीय आंग्ल-बर्मा युद्ध ।
  • 1853 ई० – बम्बई से थाणे तक पहली रेलवे लाइन का उद्घाटन, कलकत्ता से आगरा तक पहली टेलीग्राफ लाइन, पहली बार आई.सी. एस. परीक्षा प्रारम्भ।
  • 1855-1856 ई० – संथाल विद्रोह, कलकत्ता में अंजुमन- ए-इस्लामी की स्थापना ।
  • 1856 ई० – हिन्दू विधवा पुनर्विवाह अधिनियम पारित, अवध को ब्रिटिश साम्राज्य में मिलाया गया।
  • 1857 ई० – कलकत्ता, बम्बई तथा मद्रास विश्वविद्यालय की स्थापना, भारत का प्रथम स्वतंत्रता संग्राम का विद्रोह।
  • 1858 ई० – भारत का शासन कम्पनी से ब्रिटिश सरकार ने अपने हाथों में लिया।
  • 1858 ई० – 1 नवम्बर, 1858 ई. को प्रथम वायसराय लॉर्ड कैनिंग ने इलाहाबाद में एक दरबार का आयोजन किया, जिसमें वायसराय ने महारानी विक्टोरिया द्वारा भारतीय शासन चलाने की विधिवत् घोषणा की तथा विक्टोरिया की ओर से एक घोषणा पत्र पढ़कर सुनाया, जिसे भारतीय स्वतंत्रता का ‘मैग्नाकार्टा’ कहा जाता है।
  • 1859 ई० – बंगाल में नील विद्रोह
  • 1859 ई० – कागज का नोट जारी, गोद प्रथा की समाप्ति।
  • 1860 ई० – बजट की व्यवस्था शुरू।
  • 1861 ई० – भारतीय परिषद् अधिनियम पारित |
  • 1861 ई० – भारतीय उच्च न्यायालय अधिनियम-1861 के अंतर्गत कलकत्ता, बम्बई, मद्रास में एक-एक उच्च न्यायालय की स्थापना की गयी।
  • 1862 ई० – भारतीय दण्ड संहिता लागू। उच्च न्यायालय की स्थापना ।
  • 1863 ई० – कलकत्ता में मोहम्मडन एसोसिएशन की स्थापना, पटना कॉलेज की स्थापना।
  • 1866 ई० – इलाहाबाद उच्च न्यायालय की स्थापना |
  • 1872 ई० – प्रथम जनगणना प्रारम्भ।
  • 1872 ई० – लॉर्ड मेयो की हत्या ।
  • 1874 ई० – बिहार में अकाल ।
  • 1875 ई० – सैय्यद अहमद खाँ द्वारा अलीगढ़ में मोहम्मडन एंग्लो-ओरिएन्टल कॉलेज की स्थापना, प्रिंस ऑफ वेल्स की प्रथम भारत यात्रा। आर्य समाज की स्थापना ।
  • 1876 ई० – लॉर्ड लिटन का दिल्ली दरबार, महारानी विक्टोरिया भारत की साम्राज्ञी घोषित ।
  • 1878 ई० – लिटन का वर्नाक्यूलर प्रेस एक्ट पारित |
  • 1878-1880 ई० – द्वितीय आंग्ल-अफगान युद्ध।
  • 1878 ई० – अकाल आयोग की स्थापना ।
  • 1881 ई० – प्रथम फैक्टरी अधिनियम बना।
  • 1882 ई० – वर्नाक्यूलर प्रेस एक्ट निरस्त, स्कूल शिक्षा के लिए हंटर आयोग नियुक्त ।
  • 1883 ई० – इलबर्ट बिल का विवाद ।
  • 1885 ई० – भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की बम्बई में स्थापना ।
  • 1888 ई० – कर्नल बेक द्वारा ‘यूनाईटेड इण्डियन पैट्रियॉटिक एसोसिएशन’ की स्थापना ।
  • 1889 ई० – प्रिंस ऑफ वेल्स की दूसरी भारत यात्रा ।
  • 1891 ई० – दूसरा फैक्टरी अधिनियम पारित ।
  • 1892 ई० – ब्रिटिश संसद द्वारा भारतीय परिषद् अधिनियम पारित |
  • 1893 ई० – एनी बेसेन्ट का भारत आगमन।
  • 1895 ई० – बाल गंगाधर तिलक ने शिवाजी उत्सव मनाया।
  • 1897 ई० – भारतीय शिक्षा सेवा का गठन, तिलक को 18 माह की कैद ।
  • 1899-1905 ई० – लॉर्ड कर्जन वायसराय।
  • 1904 ई० – भारतीय विश्वविद्यालय एक्ट पारित, पुरातत्व विभाग का गठन।
  • 1905 ई० – बंगाल का विभाजन |
  • 1906 ई० – मुस्लिम लीग की स्थापना |
  • 1908 ई० – खुदीराम बोस को फांसी, तिलक पर राजद्रोह केस तथा तिलक को 6 वर्ष का कारावास |
  • 1908 ई० – गाँधी जी को सत्याग्रह करने के लिए सबसे पहले जेल |
  • 1909 ई० – माॅर्ले मिण्टो सुधार, गाँधीजी ने “हिन्द स्वराज” पुस्तक लिखी | भारतीय परिषद् अधिनियम पारित |
  • 1911 ई० – बंगाल विभाजन रद्द, राजधानी कलकत्ता से दिल्ली स्थानातरित |
  • 1912 ई० – दिल्ली राजधानी बनायी गई | लाॅर्ड हार्डिंग पर बम फेंका गया |
  • 1913 ई० – सैन फ्रांसिस्को में गदर पार्टी का गठन, रवीन्द्रनाथ टैगोर को साहित्य का नोबेल पुरस्कार मिला |
  • 1914 ई० – तिलक माण्डले जेल से रिहा |
  • 1915 ई० – गाँधीजी दक्षिण अफ्रीका से भारत लौटे, एनीबेसेण्ट ने मद्रास में होमरूल लीग का गठन |
  • 1916 ई० – होमरूल लीग का गठन, कांग्रेस-मुस्लिम लीग के बीच लखनऊ समझौता |
  • 1917 ई० – माॅण्टेग्यू-चेम्सफोर्ड सुधार, गाँधी जी द्वारा चम्पारण सत्याग्रह प्रारम्भ, एनीबेसेण्ट बंदी |
  • 1919 ई० – जलियांवाला बाग नरसंहार, रौलट एक्ट पारित, रवीन्द्रनाथ टैगोर द्वारा सर उपाधि वापस, माॅण्टेग्यू-चेम्सफोर्ड सुधार अधिनियम पारित |
  • 1920 ई० – असहयोग तथा खिलाफत आन्दोलन प्रारम्भ, गाँधी जी ने कैसर-ए-हिन्द की उपाधि लौटाई, अखिल भारतीय ट्रेड यूनियन की स्थापना |
  • 1922 ई० – चौरी-चौरा कांड |
  • 1923 ई० – स्वराज पार्टी की स्थापना |
  • 1923 ई० – मदन मोहन मालवीय द्वारा इंडियन पार्टी का गठन |
  • 1924 ई० – कानपुर षड्यन्त्र केस, गाँधी बेलगाँव कांग्रेस अधिवेशन के अध्यक्ष |
  • 1925 ई० – अखिल भारतीय दलित वर्ग एसोसिएशन की स्थापना | कम्युनिस्ट पार्टी की स्थापना |
  • 1926 ई० – ट्रेड यूनियन एक्ट पारित |
  • 1927 ई० – साइमन कमीशन की नियुक्ति |
  • 1927 ई० – अखिल भारतीय महिला सम्मेलन की स्थापना।
  • 1928 ई० – हिन्दुस्तान सोशलिस्ट रिपब्लिक पार्टी की स्थापना, नेहरू रिपोर्ट, साइमन कमीशन भारत आया, लाला लाजपतराय की मृत्यु।
  • 1929 ई० – लाहौर कांग्रेस अधिवेशन में नेहरू द्वारा पूर्ण-स्वराज का प्रस्ताव पारित। शारदा एक्ट पारित |
  • 1930 ई० – सविनय अवज्ञा आन्दोलन प्रारम्भ, 26 जनवरी को स्वाधीनता दिवस के रूप में मनाने का आह्वान | लंदन में प्रथम गोलमेज सम्मेलन ।
  • 1931 ई०- गाँधी- इर्विन पैक्ट, द्वितीय गोलमेज सम्मेलन में गाँधीजी की भागीदारी। भगत सिंह, सुखदेव और राजगुरु को फांसी।
  • 1932 ई० – साम्प्रदायिक अधिनिर्णय की घोषणा। पूना समझौता तथा देहरादून में राष्ट्रीय सेना अकादमी की स्थापना ।
  • 1933 ई० –प्रस्तावित सुधारों पर श्वेतपत्र जारी, संयुक्त चयन समिति का गठन।
  • 1934 ई० – कांग्रेस सोशलिस्ट पार्टी की पटना में स्थापना, सविनय अवज्ञा आन्दोलन वापस, बिहार में भूकंप, फैक्टरीज एक्ट लागू, रॉयल इंडियन नेवी की स्थापना ।
  • 1935 ई०- भारत सरकार अधिनियम-1935 पारित। संघीय न्यायालय की स्थापना, की शुरुआत। प्रान्तीय स्वशासन की शुरुआत |
  • 1936 ई०-सम्राट जार्ज V की मृत्यु, एडवर्ड VIII का राज्यारोहण ।
  • 1937 ई०- नए चुनाव तथा नवीन प्रान्तीय सरकारें ।
  • 1938 ई०- सुभाष चन्द्रबोस कांग्रेस अध्यक्ष चुने गए।
  • 1939 ई०- द्वितीय विश्वयुद्ध आरम्भ, सुभाष चन्द्र बोस दोबारा कांग्रेस अध्यक्ष चुने गये तथा बाद में त्यागपत्र दे दिया।
  • 1940 ई०- जिन्ना द्वारा मुस्लिमों के लिये पृथक देश की माँग, गाँधीजी का व्यक्तिगत सत्याग्रह, विनोबा भावे पहले सत्याग्रही बने।
  • 1941 ई०- सुभाष चन्द्र बोस कलकत्ता से भागकर जर्मनी पहुँचे।
  • 1942 ई०-” अंग्रेजों भारत छोड़ो” प्रस्ताव पारित।
  • 1943 ई०- सुभाष चन्द्र बोस द्वारा स्वतंत्र भारत की सरकार का गठन तथा भारतीय राष्ट्रीय सेना बनायी।
  • 1944 ई०-असम पर जापानी आक्रमण, आजाद हिन्द फौज मणिपुर के नजदीक पहुँची।
  • 1945 ई०- आजाद हिन्द फौज पर मुकदमा, लॉर्ड वेवेल की घोषणा।
  • 1946 ई०- कैबिनेट मिशन भारत आया, अंतरिम सरकार का गठन, संविधान सभा की प्रथम बैठक 16 अगस्त को मुस्लिम लीग द्वारा ‘सीधी कार्यवाही दिवस’ मनाया गया, 2 सितंबर को अंतरिम सरकार गठित, नोआखाली एवं टिपरा में 14 अक्टूबर को सांप्रदायिक दंगे, 25 अक्टूबर को बिहार में दंगे, 26 अक्टूबर को मुस्लिम लीग का अंतरिम सरकार विलय, 9 दिसंबर को संविधान सभा का प्रथम सत्र ।
  • 1947 ई० – ब्रिटिश प्रधानमंत्री क्लीमेंट एटली द्वारा जून 1948 तक भारत छोड़ने का निर्णय, लॉर्ड माउंटबेटन द्वारा 15 अगस्त, 1947 को सत्ता हस्तान्तरित किया जाना, भारत-पाक विभाजन प्रस्ताव पारित, जवाहर लाल नेहरू प्रधानमंत्री बने।
  • 1948 ई०- महात्मा गाँधी की दिल्ली में हत्या, जिन्ना, की मृत्यु, भारतीय सेना द्वारा हैदराबाद की मुक्ति ।
  • 1950 ई०- भारतीय संविधान लागू हुआ, राजेन्द्र प्रसाद् राष्ट्रपति चुने गए।
  • 1951 ई०- प्रथम पंचवर्षीय योजना की शुरुआत।
  • 1952 ई०- प्रथम आम चुनाव सम्पन्न
  • 1954 ई०-चीन और भारत में पंचशील समझौता।
  • 1955 ई०- अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की आवड़ी (चेन्नई) अधिवेशन में समाजवादी समाज का लक्ष्य स्वीकार।
  • 1956 ई० – जीवन बीमा का राष्ट्रीयकरण ।
  • 1957 ई०- दूसरे आम चुनाव।
  • 1958 ई०-माप और तौल की मीट्रिक प्रणाली का प्रारम्भ।
  • 1959 ई० – भारत में दूरदर्शन की शुरुआत।
  • 1960 ई० – महाराष्ट्र और गुजरात राज्यों का बनना।
  • 1961 ई० – गोवा स्वतन्त्र हुआ।
  • 1962 ई०- भारत पर चीन का आक्रमण।
  • 1963 ई० – डॉ. राजेन्द्र प्रसाद की मृत्यु।
  • 1964 ई०- पं. जवाहरलाल नेहरू की मृत्यु।
  • 1965 ई० – भारत-पाकिस्तान युद्ध ।
  • 1966 ई०- ताशकन्द समझौता, प्रधानमंत्री लालबहादुर शास्त्री की मृत्यु।